विज्ञान जगत और मेरा समाज

विज्ञान की खबरें एवं सामाजिक परिदृश्य

100 Posts

42 comments

Manoj Kumar


Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

Sort by:

हाथ पकड़ संग पिता के चलना, मन में विश्वास जगाता था

Posted On: 17 Sep, 2017  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

कविता में

0 Comment

वायुमंडल में घटता ऑक्सीजन का स्तर

Posted On: 17 Dec, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others social issues में

0 Comment

अच्छाई को खोने ना दे !

Posted On: 11 Nov, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others social issues में

0 Comment

कुपोषण और हमारा समाज !

Posted On: 6 Nov, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others lifestyle social issues में

0 Comment

टीन एजर हो रहे मोटापे के शिकार !

Posted On: 14 Oct, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others मेट्रो लाइफ में

0 Comment

क्या आप बहुत अधिक शरमाते हैं ?

Posted On: 21 Aug, 2015  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others lifestyle में

0 Comment

Page 1 of 1012345»...Last »

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

के द्वारा: rameshagarwal rameshagarwal

के द्वारा: rajeshkondal rajeshkondal

मनोज जी -------- जो कुछ भी हो आमिर जी ने औरो की तरह चुप रह के देखने के बजाय उसके खिलाफ आवाज उठाई है और हम सबको उनका साथ देना चाहिए ताकि इस गुनाह को रोका जा सके और उसके लिए किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए आमिर जी के इस प्रोग्राम के माध्यम से सरकार और समाज दोनों की आंखे खुले और ऐसे गुनाह करने वाले लोगो को समझ आये कि जो हो रहा है वो गलत हो रहा है भगवान् के बनाये दुनिया में उनको ये हक़ नहीं है कि वो फैसला करे कि किसे जीने का हक़ है और किसे नहीं. लोग भगवन को मानने का दावा करते है और अपने मतलब के लिए उसी भगवन के खिलाफ खड़े हो जाते है ये कह कर कि वो सही है इससे सच नहीं बदल जाता और सच ये है कि किसी कि जिंदगी और किस्मत का फैसला करने का हक़ किसी भी इन्सान को नहीं है वो भले ही कुछ भी करे या सोचे किसी को भी मारना पाप है, गुनाह है. और अगर औरत हि नहीं होगी तो कोई मर्द कैसे रह सकता है और कब तक हमारे समाज में बहुत बुराइयाँ है जिन्हें आमिर जी अपने प्रोग्राम में दिखा रहे है और सबको उनके साथ मिल कर बिना कोई सवाल उठाये उनका साथ देना चाहिए क्योंकि कुछ भी हो इससे फ़ायदा तो हमारे समाज को और हमे ही होगा. हमे आमिर खान जी का सुक्रिया अदा करना चाहिए और उनका साथ देते हुए खुदा से दुआ करना चाहिए कि वो इस नेक काम में सफल हो. ताकि समाज और हमारा देश दोनों तरक्की कर सके. और वो दिन आये जब लोग सिर्फ इंसानियत की बात करे और सोचे की हम एक है और इन्सान है काश हमारे आने वाले कल में इन बुरइयो के लिय कोई जगह न हो ----- जागरण जंक्सन फोरम

के द्वारा: MEENU MEENU

के द्वारा: अनिल कुमार ‘अलीन’ अनिल कुमार ‘अलीन’

आपने जो लिखा वोह सच है हमारे यहाँ किताबों मी लिखा है सत्यमेव जयते पैर जब हम उसको अपन्नातेय तब लोग कहेते हैं पागल हो गया यह काम देश के वीर जवानों का है कुछ नहीं सोचो जिस के कहने और सुनने मी अंतर हो सर्कार कहती अपराधियों के पकड़ने में पोलिसे का साथ दो और पोलिसे है अपराधी कम और आपको कब अपराधी करार दे डाले कुछ पता नहींज़िन्दगी पैर अपना जोर डालो काम कम बाती ज्यादा करो देश को अपनी आवाज़ नेताओ की आवाज़ दे डालो देश पैर मिटने वालो को यही बाकी निशान होगा इससे जयादा क्या होगा सोचने वाली बात है अगर हमरे देश में कोई काम सही waqtपैर होजयेताब देश सयद आगे चल्जयेयेह हमरे लिए कोई बड़ी बात नहीं इसलिए देश के वीर जवान वतन को हम सब के हवाले करगे hain

के द्वारा:




latest from jagran